उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना -2022 (Uttar Pradesh Marriage Grant Scheme-2022)

योजना को रेटिंग दें

Uआज के महंगाई के दौर में बेटी की शादी करना बहुत कठिन कार्य हो गया है ।क्योंकि गरीब परिवार के लोग अपनी बेटी की शादी करने में असमर्थ होते  हैं ।उनकी इस असमर्थता को दूर करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना चलाई गई है। जिसका उद्देश्य ऐसे परिवार की मदद करना जो अपनी बेटी की शादी करने में समर्थ नहीं है ।उनको उत्तर प्रदेश सरकार कुछ रुपए प्रदान करेगी ।जिसके माध्यम से वह अपने बेटी की शादी आसानी से कर सके । अब आपके मन में प्रश्न उठ रहा होगा कि उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना क्या है ?इसका उद्देश्य क्या है ?और साथ ही साथ इसका आवेदन कैसे करें ?आदि जानकारी आपको इस आर्टीकल में दी जाएगी ।आपको आर्टिकल के  किसी भी पार्ट को स्किप नहीं करना है ।यदि आप आर्टीकल के किसी भी पार्ट को स्किप  करते हैं तब आपको अधूरी जानकारी प्राप्त होगी ।जिसके परिणाम स्वरुप आप उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना के विषय में जानकारी नहीं प्राप्त कर पाएंगे ।और उसके लाभ से वंचित भी हो जाएंगे।

लेख के मुख्य बिंदु

उत्तर प्रदेश शादी अनुदान scheem क्या है (What is Uttar Pradesh Marriage Grant Scheme)

उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना एक प्रकार की सहायता है ।जिसके माध्यम से उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा लड़की को जिसकी शादी होने वाली है उसको ₹51000 की राशि प्रदान की जाएगी। जिसके माध्यम से कन्या के पिता अपने बेटी की शादी को आसानी से कर सके। और उनको कोई समस्या ना हो ।जिसके परिणाम स्वरूप वह कर्ज के बोझ तले दबे न। आज के इस पूंजीवादी युग में प्रत्येक वस्तु बिकने के लिए तैयार है। लेकिन जो फैमिली इलीट क्लास से होती है ।वह अपनी बेटी की शादी के खर्चे को आसानी से अफोर्ड कर लेती है ।क्योंकि उनके पास बहुत सारा पैसा है ।लेकिन जो गरीब  होते है उनके पास उतना पैदा नहीं होता है कि वह अपनी बेटी की शादी कर सकें । लड़की के पिता के ऊपर परिवार की बहुत सारी जिम्मेदारी होती है ।उन जिम्मेदारियों को निभाते हुए अपनी बेटी की शादी करना है जैसे ही पिता शादी करने के लिए तैयार होता है ।वह कर्ज के पैसे से कांप जाता है। क्योंकि यदि आप कम से कम खर्च करें कि अपनी बेटी की शादी में तो न्यूनतम ₹200000 खर्च हुए जाता है। इसी के मद्देनजर उत्तर प्रदेश सरकार अपने उत्तर प्रदेश के निवासियों के लिए उत्तर प्रदेश शादी अनुदान  स्किम लायी हैं। यदि आप इंटर कास्ट मैरिज करते हैं जैसे कि आप यदि निम्न कास्ट के हैं जैसे वर्मा यादव और मौर्य और आप उच्च कास्ट की लड़की से शादी करते हैं तब आपको उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना के तहत ₹55000 की राशि दी जाएगी और साथ ही साथ यदि सामूहिक शादी विवाह कार्यक्रम में हर जोड़े को ₹5000 की राशि दी जाएगी।

उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना का पर्पज क्या है (What is the purpose of Uttar Pradesh Marriage Grant Scheme)

(1) उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना का उद्देश्य है कि आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की सहायता करना और साथ ही साथ उन्हें कुछ राशि प्रोवाइड कराना।

(2) उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना का सबसे बड़ा उद्देश्य है यह है कि जो गरीब व्यक्ति बा मुश्किल से दो वक्त का खाना जुटा पाते हैं ।ऐसे में अपनी बेटी की शादी करना एक मुश्किल कार्य हो जाता है ।जिसके मद्देनजर वह किसी जमीदार के या किसी महाजन के चंगुल में फंस जाते हैं ।और कर्ज का दुष्चक्र उनके ऊपर हावी हो जाता है ।इस कर्ज के दुष्चक्र में फंसे ना इसलिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा लड़की के पिता को ₹51000 की राशि प्रोवाइड की जा रही है। जिससे वह अपनी बेटी की शादी आसानी से कर सकें।

उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना की एलिजिबिलिटी क्या है (What is the eligibility of Uttar Pradesh Shaadi Anudan Yojana)

उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना एलिजिबिलिटी यह है  है कि जो व्यक्ति शादी करने वाले हैं उत्तर प्रदेश के स्थाई निवासी होने चाहिए और साथ ही साथ लड़की की न्यूनतम उम्र 18 साल लड़के की न्यूनतम उम्र 21 साल होनी चाहिए ।और साथ ही साथ लड़के और लड़की क्रमशः शेड्यूल कास्ट और शेड्यूल ट्राइब और अन्य पिछड़ा वर्ग और साथ ही साथ आर्थिक कमजोर वर्ग से होने चाहिए ।यदि आप इन सब   मापदण्डो को फुल फील करते हैं ।तब आप उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना की योग्य हो जाते हैं। और आप रजिस्ट्रेशन फॉर्म फिल कर सकते हैं। और सबसे बड़ी बात यह है कि यह योजना सिर्फ दो बेटी की हो मिल पाएगी अर्थात कहने का मतलब यह है कि यदि किसी व्यक्ति की 5 बेटी है तो उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना के तहत सिर्फ दो ही बेटी को ₹51000 की राशि प्रोवाइड कराई जाएगी।

उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना के रजिस्ट्रेशन में लगने वाला डॉक्यूमेंट कौन – कौन सा है (Which is the document to be taken in the registration of Uttar Pradesh Shadi Anudan Yojana)

उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना के रजिस्ट्रेशन में लगने वाले डॉक्यूमेंट यह है कि आवेदक का पहचान पत्र और साथ ही साथ आवेदक का  कास्ट सर्टिफिकेट और बैंक अकाउंट और आवेदक का शादी का सर्टिफिकेट और पासपोर्ट साइज फ़ोटो  और शादी का मोबाइल नंबर और आपसे यह भी  जानकारी मांगी जाती है कि जिस लड़की की शादी आप कर रहे हैं। वह क्या गोद ली गई लड़की तो नहीं है ।यदि गोद ली लड़की है उसका सबूत देना पड़ेगा आपको ।यदि नहीं है उसका भी सबूत देना पड़ेगा यह सब डॉक्यूमेंट कंपलसरी है।

उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना के लिए अप्लाई कैसे करे (How to Apply for Uttar Pradesh Shaadi Anudan Yojana)

उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना के लिए अप्लाई कैसे करें ?अब यह सवाल उठता है ।अप्लाई करना बहुत ही सरल है ।क्योंकि अप्लाई करने के लिए आपको सीधे उत्तर प्रदेश के ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना है। और वहां पर से आसानी से आवेदन कर सकते हैं। अब आइए जानते हैं कि आवेदन करने का प्रोसेस क्या है?

उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना के लिए अप्लाई करने का प्रोसेस क्या है ?

(1) सबसे पहले यह आपका मोबाइल फोन लॉक है उसे अनलॉक करिए।

(2) मोबाइल फोन को अनलॉक करने के बाद अपने मोबाइल फोन मैं इंटरनेट डाटा को ऑन करिए।

(3) इंटरनेट डाटा बंद करने के बाद अपने मोबाइल फोन में गूगल क्रोम को ओपन करिए और उसमें टाइप करिए- shadianudan.upsdc.gov.in

(4) अब आपके सामने शादी अनुदान का पोर्टल ओपन होगा ।आपको उस पर क्लिक कर देना है। क्लिक करने के बाद आपको रजिस्ट्रेशन करने के लिए कहा जाएगा। आपको इसके लिए न्यू रजिस्ट्रेशन के विकल्प पर क्लिक करना है ।जैसे ही आप new रेजिस्ट्रेशन के विकल्प पर क्लिक करेंगे ।तब आपसे आपका कैटेगरी पूछा जाएगा। जैसे कि यदि आप अन्य पिछड़ा वर्ग या अनुसूचित जाति या अनुसूचित जनजाति या आर्थिक कमजोर वर्ग से संबंध रखते हैं। इनमे से  आप जिस भी  कैटेगरी से संबंध रखते हो ।उस ऑप्शन पर क्लिक कर दीजिए ।जैसे उस ऑप्शन पर क्लिक करते हैं। रजिस्ट्रेशन फॉर्म आपके सामने खुलकर ओपन हो जाएगा।

(5) जैसे ही रजिस्ट्रेशन फार्म आपके सामने खुलकर ओपन होगा ।उसमें आपसे निम्नलिखित जानकारी मांगी जाएगी।

(a) पुत्री की शादी की डेट कब होने वाली है अर्थात शादी की तारीख क्या है ?

(b) और इसके साथ ही साथ पुत्री का पासपोर्ट साइज का फोटो भी मांगा जाएगा।

(c) और साथ ही साथ पुत्री का नाम क्या है? और पुत्री की जाति  क्या है? और साथ ही साथ वह किस केटेगरी से बिलॉन्ग करती है। आदि जानकारी आपको फिल अप करना है।

(d) उसके बाद पुत्री के जिले का नाम पुत्री के गांव का नाम और साथ ही साथ पुत्री की तहसील का नाम भी मांगा जाएगा।

(e) उसके बाद अप्लाई करने वाले का नाम और फोटो भी मांगा जाएगा।

(f) और उसके बाद पहचान पत्र की फोटो कॉपी और जाति प्रमाण पत्र संख्या आवेदक के पिता या पति का नाम और अप्लाई करने वाले का जेंडर क्या है? और साथ ही साथ ईमेल आईडी और ध्यान देने योग्य वाली बात यह है कि पुत्री क्या दिव्यांग है ?और उसके साथ ही साथ एनुअल इनकम का पूरी जानकारी और बैंक अकाउंट की पूरी जानकारी आप से मांगी जाएगी ।इन सब को फिल अप करने के बाद।

(5) बेसिक जानकारी को फिलअप करने के बाद आपसे डॉक्यूमेंट अपलोड करने के लिए कहा जाएगा जैसे कि एनुअल सर्टिफिकेट, कास्ट सर्टिफिकेट ,इनकम सर्टिफिकेट और पहचान पत्र का फोटोकॉपी।

(6) आदि डॉक्यूमेंट को अपलोड करने के बाद आपको सेब के बटन पर क्लिक करना है जैसे ही डॉक्यूमेंट सेव हो जाता है ।उसके बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना है ।सबमिट के बटन पर क्लिक करने के बाद तब आपका उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना का रजिस्ट्रेशन हो जाएगा। अब आप उसका प्रिंट आउट निकलवा सकते हैं।

उतर प्रदेश शादी अनुदान योजना के बेनिफिट क्या है (What are the benefits of Uttar Pradesh Marriage Grant Scheme)

(1) उत्तर प्रदेश शादी अनुदान योजना का सबसे बड़ा बेनिफिट यह है कि जो व्यक्ति अपनी बेटी की शादी करने में असमर्थ है। उनको समर्थ मनाया जाएगा ।जिसके माध्यम से वह अपनी बेटी की शादी आसानी से कर सकें।

(2) उत्तर प्रदेश आवास योजना का सबसे बड़ा लाभ यह है कि जिस लड़की का विवाह सही समय से नहीं हो पाता था। वह किसी अन्य लड़के के साथ भाग जाती थी। जिससे परिवार समाज की नजरों में गिर जाता था ।समाज लोग उसके ऊपर  थूकते थे ।लेकिन इस योजना के आगमन थे अब ऐसा नहीं होगा।

(3) इस योजना की सबसे बड़ी बात यह है कि जिन भी महिलाओं की शादी सही समय नहीं होती थी और जिसके परिणाम स्वरुप वह मां बनने में असमर्थ हो जाती थी। लेकिन इस योजना के आने के बाद सही वक्त में शादी होने के बाद हर एक लड़की मां के  सुख को उपभोग कर सकती है।

(4) कई लड़कियां ऐसी होती थी शादी ना होने के कारण वह आत्महत्या कर लेती थी ।अब लेकिन इस योजना के आने के बाद अब कोई भी लड़की उत्तर प्रदेश की आत्महत्या नहीं करेगी बल्कि वह एक दांपत्य जीवन बिताएगी।

(5) शादी नहीं होने के कारण कई लड़कियां धोखे से कोठे पर भेज दी जाती थी ।जिसके परिणाम स्वरूप उनके साथ बहुत बदसलूकी होती थी। लेकिन इस योजना के आगमन पर वह आत्मनिर्भर बन पाएंगी और एक अच्छा जीवन का चुनाव भी कर पाएंगी।

(6) अब प्रत्येक लड़की एक अच्छे जीवन जीने की मालकिन बन सकती है ।इस योजना के आने के बाद  उनके जीवन खुशियों से भर जाएगा।

(7) इस योजना के आने के बाद से अब रोटी और बेटी का संबंध आसानी से स्थापित हो पाएगा इसके परिणाम स्वरूप जाति और धर्म का आडंबर ज्यादा दिन तक पाव नहीं पासर  पायेगा।

उतर प्रदेश शादी अनुदान योजना की खामियां क्या है (What are the drawbacks of Uttar Pradesh Shaadi Anudan Yojana)

इस योजना की सबसे बड़ी खामियाजा  यह है कि इससे फर्जी शादियां कराई जा सकती है। जैसे कि  किसी ने अमाउंट की  राशि  लेने की  योजना बनाई जा सकती है ।जिससे उत्तर प्रदेश सरकार की आंखों में धूल झोंक  जा सके ।और एक अच्छी खासी रकम अर्जित कर सके लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार इस कमियों को दूर करने के लिए सज्ज है। और इस योजना की सबसे बड़ी कमी यह  है कि इससे धार्मिक और जाति मतभेद उत्पन्न हो सकता है। क्योंकि यह योजना अंतर जाति विवाह और अंतर धार्मिक विवाह को बढ़ावा देगा। जिसके परिणाम स्वरूप कोई भी व्यक्ति किसी भी धर्म या जाति में शादी कर सकता है। इसमें कोई समस्या नहीं होगी। लेकिन इस पर गौर करना है उत्तर प्रदेश सरकार को और इसका निदान भी ढूंढना है। क्योंकि उत्तर प्रदेश भारत का सबसे बड़ा जनसंख्या वाला राज्य है। जहां पर कट्टरपंथी अपनी चरम सीमा पर है। इस बात को ध्यान रखना है।

FAQs Uttar Pradesh Shaadi Anudaan Yojana

Q:- उत्तर प्रदेश शादी अनुदान स्कीम किसके नेतृत्व में चलाई जा रही है

Ans:- उत्तर प्रदेश शादी अनुदान स्कीम उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही है।

Q:- उत्तर प्रदेश शादी अनुदान स्कीम के तहत कितना अमाउंट प्रोवाइड  किया जा रहा है?

Ans:- उत्तर प्रदेश शादी अनुदान स्कीम के तहत प्रोवाइड की जाने वाली अमाउंट की राशि है ₹51000

Q:- उत्तर प्रदेश शादी अनुदान स्कीम का परपज क्या है?

Ans:- उत्तर प्रदेश शादी अनुदान स्कीम का पर्पज यह  है कि जो व्यक्ति आर्थिक रूप से कमजोर है उनकी मदद की जाए।

Q:- उत्तर प्रदेश शादी अनुदान स्कीम के मापदंड क्या है?

Ans:- उत्तर प्रदेश शादी अनुदान स्कीम के मापदंड यह है कि लड़की 18 साल की और लड़का 21 साल का होना चाहिए और साथ ही साथ उत्तर प्रदेश के स्थाई निवासी होने चाहिए।

Q:- उत्तर प्रदेश शादी अनुदान स्कीम के लिए अप्लाई कैसे करें?

Ans-: उत्तर प्रदेश शादी अनुदान स्कीम के लिए अप्लाई करने की वेबसाइट है – shadianudan.upsdc.gov.in

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!