Kusum Yojana Registration ( कुसुम योजना रजिस्ट्रेशन )

योजना को रेटिंग दें

दोस्तों , भारत एक कृषि प्रधान देश है। हमारे देश में कृषि को विशेष महत्व दिया जाता है इसलिए सरकार किसानों की आर्थिक स्थिति को मजबूत बनाने के उद्देश्य से समय समय पर कई प्रकार की योजनाओं को शुरू करती रहती है ताकि किसान बिना किसी चिंता के फसल उत्पादन पर ध्यान दे सकें। इसके अलावा हमारे देश की सरकार ,फसलों के उत्पादन को और भी ज्यादा आसान बनाने के लिए सुविधाएं भी प्रदान करती रहती है ताकि किसानों को फसल उत्पादन में लाभ मिल सके। केंद्र सरकार द्वारा किसानों के हित के लिए एक ऐसी ही योजना की शुरुआत की गई है जिसका नाम Kusum Yojana है, जिसके अंतर्गत सरकार  पेट्रोल व डीजल सिंचाई पम्पों को सौर ऊर्जा पम्पों में परिवर्तित करेगी। इस योजना के द्वारा सरकार किसानों को सौर ऊर्जा से चलने वाले सोलर पम्प प्रदान करेगी। अगर आप भी इस योजना के अनुरूप पात्र है तो Kusum Yojana Registration करके आवेदन कर सकते है । आज के आर्टिकल में हम आपको Kusum Yojana Registration से सम्बंधित सभी प्रकार की जानकारियाँ देने वाले है जिनमें कुसुम योजना क्या है, कुसुम स्कीम का लाभ उठाने के लिए आवश्यक डाक्यूमेंट्स क्या क्या लगते है, इस योजना के लिए निर्धारित मानदंड क्या है, कुसुम योजना लाभार्थियों की सूची , Kusum Yojana Registration के क्या क्या लाभ है, कुसुम योजना आवेदन शुल्क, Kusum Yojana Registration Online राजस्थान, उत्तर प्रदेश, बिहार, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, हरियाणा राज्य के लिए कैसे करें,  कुसुम योजना आवेदन की सूची कैसे देखे, इस योजना के लिए ग्रीवांस दर्ज करने की प्रक्रिया, फीडबैक दर्ज करने का प्रोसेस, इस योजना के लिए जारी हेल्पलाइन नंबर, अन्य राज्य ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन लिंक आदि है।

लेख के मुख्य बिंदु

कुसुम योजना क्या है (Kusum Yojana Kya Hai)

यह केंद्र सरकार द्वारा किसानों के लिए शुरू की गई योजना है। जिसके अंतर्गत देश के किसानों को सौर ऊर्जा से चलने वाले सोलर पंप दिए जाएंगे। कुसुम योजना 2022 के तहत जो किसान सिंचाई पम्पों को पेट्रोल या डीजल की मदद से चलाते थे , उन पंपों को कुसुम योजना के माध्यम से Solar Energy के द्वारा चलाया जाएगा। पीएम कुसुम योजना की घोषणा वित्तीय मंत्री अरुण जेटली जी के द्वारा की गई थी। केंद्र सरकार द्वारा कुसुम योजना के लिए 34, 422 करोड़ रुपयों का प्रावधान प्रदान किया गया है। इस योजना के लिए किसानों को केंद्र सरकार की तरफ से 60 फीसदी की सब्सिडी प्रदान की जाएगी। इसके साथ ही साथ 30 फीसदी लोन बैंको द्वारा दिया जाएगा और किसानों को सिर्फ 10 फीसदी का ही भुगतान करना पड़ेगा।  

Highlights Of Kusum Yojana 2022

योजना का नाम  कुसुम योजना   
योजना का वर्ष भारत सरकार ने 19 फरवरी 2019 को कुसुम योजना को मंजूरी दी थी
कैटेगरी केंद्र सरकार योजना
देश भारत
योजना किसने शुरू की है वित्तीय मंत्री श्री अरुण जेटली जी  
योजना के लाभार्थी देश भर के सभी किसान    
योजना का उद्देश्य  डीजल व पेट्रोल से चलने वाले सिंचाई पम्पों को सौर ऊर्जा से चलने वाले सोलर पम्प में परिवर्तित करना एवं कृषि कार्यो के लिए लगने वाले पम्प को सौर ऊर्जा देने के लिए सब्सिडी दी जाती है।
विभाग नवीन एवं नवीनीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय 
आधिकारिक वेबसाइट http://rreclmis.energy.rajasthan.gov.in/kusum.aspx
आवेदन की प्रक्रिया ऑनलाइन एवं ऑफलाइन

 

उत्तर प्रदेश में सौर पम्प स्थापित किये जायेंगे

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने अपने दूसरे कार्यकाल के पहले बजट की पेशकश की है। जिसके अनुसार यूपी के किसान 34307 सरकारी नलकूपों एवं 252 छोटे शाखा नहरों के द्वारा निःशुल्क सिंचाई की सुविधा प्राप्त कर सकेंगे। इस योजना के  अन्तर्गत किसानों को निःशुल्क सिंचाई सिंचाई प्रदान करने के लिए 15 हजार सौर पम्प स्थापित करने की घोषणा की गई है। इन सौर पम्पों की स्थापना प्रधानमंत्री किसान ऊर्जा सुरक्षा और उत्थान महा अभियान योजना के अंतर्गत की जाएगी। राज्य सरकार को 2100 राजकीय नलकूपों के निर्माण के लिए 423 करोड़ रुपयों की प्राप्ति नाबार्ड के तरफ से होगी। इसके अलावा 6600 राजकीय नलकूपों को आधुनिक बनाने के लिए 150 करोड़ रुपये और 569 निष्क्रिय राजकीय नलकूपों की बहाली के लिए 130 करोड़ रुपये का सुझाव भी दिया गया है।

कुसुम योजना की पात्रता (Eligibility For Kusum Yojana ) 

अगर आप भी भारत के किसान है और कुसुम योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन करना चाहते है तो इसके लिए सरकार द्वारा कुछ मानदंड निर्धारित किये गए है जिसके अनुसार पात्र होने पर ही आप Kusum Yojana का लाभ उठा सकते है तो चलिए जानते है कि Kusum Yojana 2022 के लिए पात्रता क्या क्या है :-

  • कुसुम स्कीम के लिए आवेदन करने वाला भारत का मूल निवासी होना चाहिए।
  •  आवेदक के पास प्रति मेगावाट के लिए करीबन  2  हैक्टेयर भूमि की आवश्यकता होगी।
  • कुसुम योजना के तहत 0.5 मेगावाट से 2 मेगावाट क्षमता तक के सोलर एनर्जी संयंत्र के लिए आवेदन कर्ता द्वारा आवेदन किया जा सकता है।
  • आवेदक के द्वारा अपनी जमीन के अनुपात में 2 मेगावाट क्षमता अथवा वितरण निगम द्वारा अधिसूचित क्षमता के लिए आवेदन किया जा सकता है।
  • अगर आवेदक किसी विकासकर्ता के द्वारा प्रोजेक्ट विकसित कर रहा है तो विकासकर्ता की नेटवर्थ प्रति मेगावाट 1 करोड़ रुपये होनी अनिवार्य है।
  • कुसुम योजना के अंतर्गत खुद के निवेश से प्रोजेक्ट के लिए किसी भी तरह की वित्तीय योग्यता की जरूरत नही है।

कुसुम योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज (Document Required For Kusum Yojana)

  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • ऑथराइजेशन लेटर
  • रजिस्ट्रेशन की कॉपी
  • चार्टर्ड अकॉउंटेन्ट द्वारा जारी किया गया नेटवर्थ सर्टिफिकेट ( यदि विकासकर्ता के माध्यम से प्रोजेक्ट विकसित किया जा रहा है )
  • जमीन के जमाबंदी की कॉपी
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक डिटेल्स
  • पासपोर्ट साइज फोटो

कुसुम योजना के लाभार्थियों की सूची (Beneficiary  List Of Kusum Yojana)

  • किसान 
  • किसान उत्पादक
  • बहुत सारे किसानों का ग्रुप
  • सहकारी समितियां
  • पंचायत
  • जल उपभोक्ता एसोसिएशन

पीएम कुसुम योजना के लाभ ( Benefits of PM Kusum Yojana )

  • प्रधानमंत्री कुसुम योजना का लाभ देश भर के सभी किसान भाई उठा सकते है।
  • इस योजना के अंतर्गत पात्र आवेदनकर्ता को डीजल, केरोसिन व पेट्रोल से चलने वाले सिंचाई पम्प के स्थान पर सौर ऊर्जा से चलने वाले सोलर पम्प प्रदान किये जायेंगे।
  • Pradhanmantri Kusum Yojana के माध्यम से लगने वाले सोलर पैनल में किसानों को सिर्फ 10 प्रतिशत का ही भुगतान करना होता है।
  • सोलर पैनल लग जाने से अब किसानों को सिंचाई पम्प चलाने के लिए पेट्रोल व डीजल पर ख़र्च करना नही पड़ेगा , जिससे पैसों की बचत होगी।
  • PMKY के माध्यम से सोलर पंप लग जाने से अब इसके द्वारा बिजली की भी उत्पत्ति की जा सकेगी।
  • बिजली उत्पन्न होने से गांवों में 24 घंटे बिजली की सुविधा देने के कार्य को संभव किया जा सकेगा।
  • पानी की कमी के कारण किसान जिस जमीन में फसल नही उगा पाते थे अब सोलर पम्प की मदद से उस भूमि पर भी फसल उत्पादन किया जा सकेगा।
  • फसल उत्पादन अधिक होने से किसानों की आय भी बढ़ेगी जिससे किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा।  
  • पीएमकेवाई के द्वारा सभी राज्यों में सोलर पंप लग जाने से पर्यावरण को होते नुकसान से भी बचाया जा सकेगा। 
  • इस योजना के अंतर्गत जो सोलर पैनल लगाये जाएंगे , उससे जो भी बिजली पैदा की जाएगी उसका इस्तेमाल किसान अपने घरों के लिए भी कर सकते है । इसके अलावा अतिरिक्त बिजली को बेच भी सकते है।
  • कई ऐसे किसान है जो आर्थिक तंगी के कारण सोलर पैनल लगाने में असमर्थ थे, प्रधानमंत्री कुसुम योजना के माध्यम से अब वे भी सोलर पंप लगवा पाएंगे।
  • इस योजना के द्वारा किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा जिससे पैसों की कमी के कारण आत्महत्या करने वाले किसानों की दर में गिरावट आएगी।
  • इस योजना के प्रथम चरण में देश के 1.75 लाख पम्प जो कि पेट्रोल व डीजल के द्वारा चलते है उन्हें सोलर पैनल की मदद से चलाया जा सकेगा।
  •  PMKY योजना के तहत राजस्थान में 9 परियोजनाएं स्थापित किये जा चुके है, जिसमे 100 मेगावाट बिजली का उत्पादन भी शुरू किया जा चुका है। 

कुसुम योजना आवेदन शुल्क (Kusum Yojana Avedan Fees) 

आपको बता दें कि आवेदन शुल्क का भुगतान प्रबंध निर्देशक राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम के नाम Demand Draft के रूप में किया जाएगा। कुसुम योजना आवेदन शुल्क 0.5 मेगावाट से लेकर 2 मेगावाट तक के लिए निम्नलिखित है :-

मेगावाट आवेदन शुल्क
0.5 मेगावाट 2500 + GST
1 मेगावाट 5000 + GST
1.5 मेगावाट 7500 + GST
2 मेगावाट 10, 000 + GST

 

कुसुम योजना राजस्थान ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन (Kusum Yojana Rajasthan Online Registration) 

राजस्थान कुसुम योजना के लिए आवेदन करने हेतु नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें :- 

  • कुसुम योजना राजस्थान ऑनलाइन आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको RRECL की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा या फिर आप दिए गए लिंक पर http://rreclmis.energy.rajasthan.gov.in/kusum.aspx भी क्लिक कर सकते है। 
  • इसके होम पेज पर आपको Online Registration का विकल्प मिलेगा, जिस पर आपको क्लिक कर लेना होता है।
  •  अब आपके सामने Rajasthan Kusum Yojana 2022 Registration फॉर्म खुल जाएगी जिसमें आपको नाम, पता, आधार कार्ड नंबर, मोबाइल नंबर आदि को भर लेना होता है।
  • फॉर्म में पूछी गई सारी जानकारियों को अच्छे से भरकर Submit के बटन पर क्लिक कर लें।
  • इस प्रकार आप Rajasthan Kusum Yojana Online Registration की प्रक्रिया को पूरा कर लेंगे। 
  • इसके बाद चयन किये गए लाभार्थियों को सौर पम्प सेट की 10 फीसदी लागत विभाग द्वारा अनुमोदित आपूर्तिकर्ताओं को जमा करने का निर्देश दिया जाता है , इसके कुछ दिनों के बाद आपके खेतों में सोलर पंप लगा दिए जाएंगे।

 

कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन उत्तर प्रदेश 2022 (Kusum Yojana Online Registration UP 2022)  

अगर आप उत्तर प्रदेश राज्य के निवासी है और यूपी कुसुम योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना चाहते है तो आगे हम आपको इसके पूरे प्रोसेस के बारे में स्टेप बाइ स्टेप बताने वाले है जिसका अनुसरण करके आप आसानी से Kusum Yojana Online Registration UP कर सकते है :-

  • यूपी कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको Department Of Additional Sources Of Energy , Government Of Uttar Pradesh की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा या फिर आप दिए गए लिंक http://upneda.org.in/KUSUM_Yojna.aspx पर भी क्लिक कर सकते है। 
  • इसके होम पेज पर आपको Programmes का विकल्प दिखेगा , जिस पर आपको क्लिक कर लेना होता है।
  • इस पर क्लिक करते ही आपके सामने सभी मौजूद प्रोग्राम की लिस्ट दिख जायेगी, जिसमें से आपको Solar Energy Program के विकल्प का चयन कर लेना होता है। 
  • अब इसके बाद आपको Kusum Yojana के ऑप्शन पर क्लिक कर लेना होगा। 
  •  इसके बाद आपके सामने एक नया पेज ओपन हो जाएगा जिसमें आपको पंजीकरण के विकल्प पर क्लिक कर लेना होता है।
  • अब आपके सामने कुसुम योजना रजिस्ट्रेशन फॉर्म ओपन हो जाएगा।
  • इसके बाद आपको Kusum Yojana Registration Form में पूछी गई सारी जानकारियों को अच्छे से भर लेना होता है। 
  • अब मांगे गए सभी आवश्यक दस्तावेजों को फॉर्म के साथ अपलोड कर दें ।
  • इसके बाद दिए गए Register के विकल्प पर क्लिक कर लें।
  • इस प्रकार आप उत्तर प्रदेश कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया को पूरा कर लेंगे। 

 

बिहार कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन (Bihar Kusum Yojana Online Registration)

 

  • Kusum Yojana Online Registration Bihar के लिए आपको Bihar Renewable Energy Development Agency की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा या फिर आप दिए गए लिंक https://breda.bih.nic.in/brd/Default.aspx पर भी क्लिक कर सकते है।
  • इसके होम पेज पर आपको Apply Now का विकल्प मिलेगा , जिस पर आपको क्लिक कर लेना होता है।
  • इसके बाद आपके समक्ष एक एप्लीकेशन फॉर्म ओपन हो जायेगा ।
  • आपको इसमें पूछी गई सारी जानकारियों को भर लेना होता है तथा मांगे गए दस्तावेजों के साथ अपलोड कर लेना होता है।
  • इसके बाद यहाँ पर दिए गए Submit के बटन पर क्लिक कर लें।
  • इस प्रकार आप कुसुम योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन बिहार के लिए पूरा कर लेंगे।

कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन महाराष्ट्र  (Kusum Yojana Online Registration Maharashtra)

  • महाराष्ट्र कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको Maharashtra Energy Department की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा या फिर आप दिए गए लिंक पर https://kusum.mahaurja.com/solar/benf_login भी क्लिक कर सकते है। 
  • इसके होम पेज पर आपको Apply For Kusum Yojana का विकल्प दिखेगा, जिस पर आपको क्लिक कर लेना होता है। 
  • अब आपके सामने Maharashtra Kusum Yojana Online Registration Form आ जायेगा
  • इसके बाद आपको इस फॉर्म में पूछी गई सारी जानकारियों को अच्छे से भर लेना होता है एवं मांगे गए आवश्यक दस्तावेजों के साथ अपलोड कर लेना होता है। 
  • अब यहां पर मौजूद Submit के Button पर क्लिक कर लें।
  • इस प्रकार आपका कुसुम योजना ऑनलाइन पंजीकरण महाराष्ट्र के लिए पूरा हो जाएगा।

कुसुम योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन मध्यप्रदेश (Kusum Yojana Online Registration Madhya Pradesh)

  • मध्यप्रदेश कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन के लिए आपको मध्य प्रदेश ऊर्जा विकास निगम लिमिटेड की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा या फिर आप दिए गए लिंक पर https://cmsolarpump.mp.gov.in/ भी क्लिक कर सकते है।
  • इसके होम पेज पर आपको ऑनलाइन आवेदन का विकल्प दिखेगा , जिस पर आपको क्लिक कर लेना होता है।
  • इस पर क्लिक करते ही आपके सामने मध्यप्रदेश कुसुम योजना ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म खुल जायेगा, जिसमें आपको पूछी गई सारी जानकारियों को भर लेना होता है एवं मांगे गए आवश्यक दस्तावेजों के साथ अपलोड कर लेना होता है।
  • इसके बाद यहां पर दी गई  Submit के विकल्प पर क्लिक कर लें।
  • इस प्रकार आप Madhya Pradesh Kusum Yojana Online Registration की प्रक्रिया को पूरा कर लेंगे।

कुसुम स्कीम पंजीकरण हरियाणा (Kusum Scheme Registration Hariyana)

  • हरियाणा कुसुम योजना ऑनलाइन आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको Hariyana Bijli Vitran Nigam की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा या फिर आप दिए गए लिंक https://pmkusum.uhbvn.org.in/ पर भी क्लिक कर सकते है।
  • इसके होम पेज पर आपको Apply For Kusum Scheme का ऑप्शन मिलेगा, जिस पर आपको क्लिक कर लेना होता है।
  •  अब आपके सामने Hariyana Kusum Yojana Registration Form ओपन हो जायेगा ।
  • इसके बाद आपको इस फॉर्म में पूछी गई सारी जानकारियों को भर लेना होता है एवं आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड कर लेना होता है। 
  • अब इसके बाद Submit के बटन पर क्लिक कर लें।
  • इस प्रकार आप हरियाणा कुसुम योजना ऑनलाइन पंजीकरण पूरा कर लेंगे।

कुसुम योजना आवेदन की लिस्ट कैसे देखें (Kusum Yojana Avedan List)

अगर आप कुसुम योजना आवेदन की सूची देखना चाहते है तो इसके लिए नीचे बताये गये दिशा निर्देशों का अनुसरण करें :-  

  • Kusum Yojana Avedan List देखने के लिए सबसे पहले आपको RRECL की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा , या फिर आप दिए गए लिंक पर http://rreclmis.energy.rajasthan.gov.in/Kusum.aspx भी क्लिक कर सकते है।  
  • इसके बाद आपको कुसुम के लिए पंजीकृत आवेदनों की सूची के विकल्प पर क्लिक कर लेना होता है।
  • इस विकल्प पर क्लिक करते ही आपके सामने चयन किये गए आवेदकों की लिस्ट खुल जाएगी, जिसमें आप अपना नाम आसानी से खोज सकते है।
  • इस प्रकार आप आसानी से कुसुम योजना आवेदन की सूची देख सकते है।  

सोलर रूफटॉप फाइनेंशियल केलकुलेटर ( Solar Rooftop Financial Calculator)

  • इसके लिए सबसे पहले आपको Ministry Of New And Renewable Energy की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा या फिर आप दिए गए लिंक पर https://www.mnre.gov.in/ भी क्लिक कर सकते हैं।   
  • इसके होम पेज पर आपको सोलर रूफटॉप फाइनेंशियल केलकुलेटर का विकल्प मिलेगा, जिस पर आपको क्लिक कर लेना होता है।
  • अब आपके सामने एक नया पेज ओपन हो जाएगा, जिसमें आपको रूफटॉप एरिया, सोलर पैनल कैपेसिटी या बजट में से किसी एक का चयन कर लेना होता है।
  •  इसके बाद कंज्यूमर कैटेगरी, राज्य आदि को सेलेक्ट कर लेना होता है एवं एवरेज इलेक्ट्रिसिटी कॉस्ट का चयन करके Calculator के बटन पर क्लिक कर लें। 
  • इस प्रकार आप सोलर रूफटॉप फाइनेंशियल केलकुलेटर का इस्तेमाल कर सकते है।

कुसुम योजना के लिए ग्रीवांस दर्ज करने की प्रक्रिया ( Kusum Yojana Grievance Process )

अगर आप कुसुम स्कीम से संबंधित ग्रीवांस दर्ज करवाना चाहते है तो नीचे बताये गये तरीके से आप आसानी से Kusum Yojana Grievance दर्ज कर सकते है : 

  •  ग्रीवांस दर्ज करने के लिए सबसे पहले आपको Ministry Of New And Renewable Energy की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होता है या फिर आप दिए गए लिंक पर https://www.mnre.gov.in/ भी क्लिक कर सकते है।  
  • इसके होम पेज पर आपको Public Grievance And Complaint Redressal Mechanism का ऑप्शन दिखाई देगा, जिस पर आपको क्लिक कर लेना होता है। 
  • इसके बाद आपके सामने Grievance का पेज ओपन हो जाएगा।
  • इस पेज पर आपको अपना नाम, ईमेल आईडी, एड्रेस , एरिया ऑफ कंसर्न , ग्रीवांस डिटेल्स आदि को भर लेना होता है।
  • इसके बाद आपको Submit के ऑप्शन पर क्लिक कर लेना होता है।
  • इस प्रकार आप Kusum Yojana Grievance दर्ज कर सकते है। 

कुसुम योजना के लिए फीडबैक देने की प्रक्रिया (Kusum Yojana Feedback Process

Kusum Scheme से जुड़े फीडबैक दर्ज करने के लिए नीचे दिए गए तरीके का अनुसरण करें :

  • फीडबैक दर्ज करने के लिए सबसे पहले आपको Ministry Of New And Renewable Energy की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होता है या फिर दिए गए लिंक पर https://www.mnre.gov.in/  क्लिक कर लें।  
  • इसके होम पेज पर आपको Feedback का विकल्प मिलेगा, जिस पर आपको क्लिक कर लेना होता है। 
  • अब अगले पेज पर आपको अपना नाम, ईमेल आईडी, Subject और फीडबैक दर्ज कर लेना होता है।
  • इसके बाद यहाँ पर उपलब्ध Submit के विकल्प पर क्लिक कर लें।
  • इस प्रकार आप कुसुम योजना से संबंधित फीडबैक दर्ज कर सकते है। 

कुसुम योजना हेल्पलाइन नंबर (Kusum Yojana Helpline Number)

अगर आप कुसुम योजना से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी हासिल करना चाहते है या फिर कुसुम Yojana से जुड़ी शिकायत दर्ज करवाना चाहते है तो इसके लिए सरकार द्वारा निम्नलिखित कुसुम योजना टोल फ्री नंबर जारी किया गया है :-

 

कांटेक्ट नंबर : 011- 243600707 या 011 – 24360404 

टोल फ्री नंबर : 18001803333

अन्य राज्यों के लिए कुसुम योजना आवेदन लिंक (Kusum Yojana Registration Link For Other State)

आंध्र प्रदेश https://www.apspcl.ap.gov.in/
आसाम https://aeda.assam.gov.in/
छत्तीसगढ़ https://cspdcl.co.in/cseb/(S(odc2qltrfc4n0vdgomyui2kf))/frmKusumIndex.aspx
गुजरात https://pmkusum.guvnl.com/landing.html
हिमाचल प्रदेश https://himurja.hp.gov.in/
झारखंड https://www.jreda.com/
कर्नाटक https://kredl.karnataka.gov.in/page/Projects/Solar%20Off%20Grid/Solar+Water+Pumps/en
केरल http://anert.gov.in/index.php/node/497
मणिपुर http://manireda.mn.gov.in/
मेघालय https://meecl.nic.in/
नागालैंड https://nre.nagaland.gov.in/
ओडिशा https://oredaodisha.com/kisan-urja-suraksha-evam-utthan-mahabhiyan-kusum-scheme/
पंजाब https://www.peda.gov.in/
तेलंगाना https://tsredco.telangana.gov.in/
त्रिपुरा http://treda.nic.in/
उत्तराखंड https://ureda.uk.gov.in/
पश्चिम बंगाल http://www.wbreda.org/

 

इस प्रकार आज के आर्टिकल में हमनें आपको कुसुम योजना रजिस्ट्रेशन से संबंधित सभी प्रकार की जानकारियाँ देने की कोशिश की है ताकि आप भी Kusum Yojana Registration करके इस योजना का लाभ उठा सके। आशा करते है कि आपको हमारा यह लेख अवश्य ही पसंद आया होगा और आप Kusum Scheme Details के बारे में अच्छे से समझ गए होंगे।

F & Q

प्रश्न :- कुसुम योजना का लाभ लेने के पात्र कौन कौन होंगे ? 

उत्तर :- Kusum Scheme का लाभ भारत के किसान प्राप्त कर सकते है।

प्रश्न :- कुसुम योजना के तहत कितने मेगावाट के प्लांट लगाए जाएंगे ?

उत्तर :- कुसुम योजना के अंतर्गत 0.5 से लेकर दो मेगावाट क्षमता तक के सोलर पावर प्लांट लगाए जाएंगे।

प्रश्न :- कुसुम योजना से होने वाले अन्य लाभ क्या – क्या है ?

उत्तर :- Kusum Yojana के द्वारा किसान के भूमि पर बनने वाली बिजली से देश के गांवों में 24 घंटे बिजली की आपूर्ति संभव हो पाएगी। इसके साथ ही साथ किसानों की डीजल, पेट्रोल व केरोसिन तेल पर निर्भरता भी कम होगी जिससे पैसों की बचत भी होगी।

प्रश्न :- सौर ऊर्जा पर कितनी सब्सिडी की प्राप्ति होती है ?

उत्तर :- 3 किलोवाट तक का सोलर रूफटॉप पैनल लगवाने पर सरकार 40 फीसदी तक कि सब्सिडी देती है और अगर आप 10 किलोवाट तक का सोलर रूफटॉप पैनल लगवाते है तो आपको 20 फीसदी सब्सिडी तक की प्राप्ति हो जाती है।

प्रश्न :- कुसुम योजना में कितनी सब्सिडी की प्राप्ति होती है ? 

उत्तर :- PMKY योजना के तहत सरकार, किसानों को 60 फीसदी की सब्सिडी प्रदान करती है। इसके साथ ही साथ लागत का 30 फीसदी लोन भी सरकार द्वारा दिया जाता है। इसके लिए किसानों को केवल 10 प्रतिशत रुपये ही खर्च करने पड़ते है।  

Leave a Comment

error: Content is protected !!