500 रुपये के नए नोट असली हैं या नहीं

500 रुपये का नोट हम सभी को देखने को मिलेगा इसलिए यह संदेश सभी के लिए महत्वपूर्ण है। रुपये यह नहीं माना जाना चाहिए कि हरी पट्टी आरबीआई गवर्नर के हस्ताक्षर के पास नहीं बल्कि गांधीजी की तस्वीर के पास है। क्या आप जानते हैं हकीकत क्या है? जांच के दौरान पता चला कि पीआईबी फैक्ट चेक के बारे में यह मैसेज गलत था। नोट में कोई बदलाव नहीं है और दोनों नोट मान्य हैं।

PIBFactCheck ने इस दावे को झूठा बताया है। तो अगर आपके पास ऊपर बताए गए 500 रुपए का नोट है, तो घबराएं नहीं। सोशल मीडिया पर समय-समय पर खबरें वायरल होती रहती हैं ताकि लोग खुद को नुकसान से सुरक्षित रख सकें।

500 रुपये के नए नोट असली हैं या नहीं, ऐसे पहचानें…

  1. नोट को प्रकाश के सामने रखा जाता है, तो यहां 500 लिखा दिखता है।
  2. आंख के सामने 45 डिग्री के कोण पर रखा जाता है, तो यहां 500, लिखा होता है।
  3. देवनागरी में 500 लिखा दिखेगा।
  4. महात्मा गांधी की तस्वीर का ओरिएंटेशन और पोजिशन पिछले नोट से थोड़ी अलग है।
  5. नोट थोड़ा मोड़ने पर सुरक्षा धागे का रंग हरे से नीले रंग में बदल जाता है।
  6. नोट में गारंटी क्लॉज, गवर्नर के सिग्नेचर, प्रॉमिस क्लॉज और आरबीआई के लोगो को पिछले नोटिस की तुलना में दाईं ओर ले जाया गया है।
  7. महात्मा गांधी की तस्वीर और इलेक्ट्रोटाइप का वॉटरमार्क है।
  8. ऊपर में सबसे बाईं तरफ और नीचे में सबसे दाहिने तरफ लिखे नंबर बाएं से दाएं तरफ बड़े होते जाते हैं
  9. यहां लिखे नंबर 500 का रंग बदल देती है। इसका रंग हरे से नीले रंग में बदल जाता है।
  10. दाहिनी तरफ अशोक स्तम्भ है.दाहिनी तरफ सर्कल बॉक्स जिसमें 500 लिखा है.
    दाहिनी और बाईं तरफ 5 ब्लीड लाइंस हैं जो खुरदरे हैं.

पीछे की तरफ..

  1. नोट की प्रिंटिंग का साल लिखा होता है।
  2. स्लोगन के साथ स्वच्छ भारत का लोगो।
  3. किनारे पर 13 के भाषा बोर्ड ।
  4. भारतीय ध्वज के साथ लाल किले की तस्वीर ।
  5. देवनागरी में 500 लिखा है।

दृष्टिहीनों के लिए.

दृष्टिबाधित लोगों के लिए। महात्मा गांधी का चित्र, अशोक स्तंभ का प्रतीक, कट रेखा और पहचान चिह्न खुरदरा है।

 

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!